डीमैट अकाउंट क्या है? 

Demat Account असलमें शार्ट फॉर्म होता है Dematerialized Account का। और Dematerialized शब्द का अर्थ होता है किसी भी पेपर ,डॉक्यूमेंट को डिजिटल रूप में बदलना, डिजटल फॉर्म में सेव करना।

Account इसे हमें हिंदी में खाता भी बोलते हैं इसका मतलब होता है किसी भी चीज का रिकॉर्ड रखना।

अगर हम कोई शेयर खरीदते हैं तो वह हमारे डीमैट अकाउंट में जाकर सेव हो जाता है।

जैसे हमारा बैंक अकाउंट किसी बैंक में ओपन होता है और हमारे सारे पैसों का रिकॉर्ड बैंक अकाउंट में होता है ठीक उसी तरह डीमैट अकाउंट एक Depository Company में ओपन होता है।

Depository शब्द का मतलब होता है स्टोर करने की जगह यानि डिपाजिट करने की जगह और यहाँ डिपाजिट होता है शेयर्स।

Depository शब्द का मतलब होता है स्टोर करने की जगह यानि डिपाजिट करने की जगह और यहाँ डिपाजिट होता है शेयर्स।

इंडिया में सेकड़ों बैंक्स हैं जहाँ हम अपना बैंक अकाउंट ओपन करवा सकते हैं पर डिपाजिट अकाउंट के लिए सिर्फ दो ही Depository है इंडिया में जहाँ हम डीमैट अकाउंट ओपन करवा सकते हैं।

पहले Depository का नाम है CDSL (Central Depository Services Limited) और दूसरे Depository का नाम है NSDL (National Securities Depository Limited).

और  वेब स्टोरीज  देखने के लिए निचे क्लिक करें