एटीएम और क्रेडिट कार्ड को 30 सितंबर तक कर लीजिए टोकनाइज

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने डेबिट और क्रेडिट कार्ड को 30 सितंबर, 2022 तक अनिवार्य रूप से टोकन से बदलने के लिए कहा है.

टोकनाइजेशन (Tokenisation) सिस्‍टम आने के बाद कंपनी के पास आपका डेटा सेव नहीं रहेगा.

टोकन सिस्‍टम से डेबिट और क्रेडिट कार्ड का पूरा डेटा 'टोकन' में बदल जाता है. जिससे आपके कार्ड की जानकारी डिवाइस में छिपाकर रखी जाती है.

 कार्ड को टोकन करने के लिए कार्डधारक को कोई शुल्क नहीं देना है.

गर आप अपने कार्ड को टोकन में बदल देंगे तो किसी भी शॉपिंग वेबसाइट या ई-कॉमर्स वेबसाइट पर आपके कार्ड की जानकारी को टोकन में सेव किया जा सकेगा.  

टोकन में बदलने से आप कार्ड का उपयोग आसानी से कर सकेंगे.

ये सिस्‍टम आपके कार्ड को ऑनलाइन धोखाधड़ी करने वालों से भी सुरक्षित रखेगा.

डेबिट या क्रेडिट कार्ड की जानकारी कार्ड जारी करने वाला या नेटवर्क के अलावा और कोई नहीं रख सकता. 

अगर आपको एक लाइफटाइम फ्री क्रेडिट कार्ड चाहिए तो निचे क्लिक करें